आज बस दुष्यंत – पुण्यतिथि पर विशेष

जहां उम्मीद न हो, वहां उम्मीद जगाने वाले, जहां हार हो, वहां हौसला जगाने वाले कवि दुष्यंत कुमार की आज पुण्यतिथि। वो जो लिख गए हैं, उसके बाद उनके बारे में लिखना बहुत कठिन है। उर्दू के पास मीर हैं, गालिब हैं, दाग हैं, मोमिन हैं और न जाने कितने हैं लेकिन हिन्दी के पास […]

सरापा दिल की जिंदादिल किरदार मीना कुमारी

मीना कुमारी के जन्मदिन पर विशेष -बेहतरीन अदाकारा के साथ साथ एक उम्दा शायरा भी थीं मीना -अपनी उम्र भर की डायरी की कॉपीराइट गुलज़ार साहब को वसीयत में दे दी पाकिस्तानी पंजाब के ‘भेरा’ से हिन्दुन्तान आए ‘मास्टर अली बक्स’ की दूसरी पत्नी प्रभावती देवी जो आगे जाकर ‘इक़बाल बेगम’ के नाम से मशहूर […]

संवेदनाओं का सेहरा है शब्द

-बच्चों को मनाने जितना कठिन है लिखना-शब्दों में ही लव से हेट तक की दूरी छिपी है जब हमारे पास कोई हसीन नजारे दिखने बंद हो जाते हैं तो शब्द हमें अपनी दुनिया की सैर कराते हैं। शब्दों की जादुई दुनिया में प्यार, इज़हार, तकरार, गुस्सा, नफरत, हसीन ख्वाब, कमजोर हक़ीकत, नज़रफ़रेब नज़ारे, संस्कार, संहार; […]